काजू की खेती आपको कर देगी मालामाल,जानिए कैसे करें शुरू और कितनी होगी कमाई

एक बार खर्च करके शुरू करे काजू की खेती का बिजनेस, कर देगी यह आपको मालामाल, जानिए कजू फार्मिंग कैसे करें शुरू और कितनी होगी कमाई.

Business idea: आज तक का सबसे दमदार बिजनेस आइडिया अगर आप खेती से बड़ा मुनाफा कमाना चाहते है, तो आपके लिए काजु की खेती का बिजनेस बेस्ट ऑप्शन हो सकता है.

यह एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसकी demand हमेशा बनी रहती है. चाहे वह सर्दी का मौसम हो या गर्मी का, काजू की डिमांड कभी कम होती ही नहीं है. आप सभी को पता है वर्तमान समय मे काजू की कीमत कितनी आधिक है. क्या आपने कभी सोचा कि काजू की खेती से कितना मुनाफा कमाया जा सकता हैं. इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि विस्तार पूर्वक काजू की खेती का बिजनेस कैसे शुरू किया जाय और इससे कितना लाभ कमाया जा सकता है.

लेकिन आगे बढ़ने से पहले हम आपको बताना चाहते है कि अगर आपको हमारे द्वारा बताई गई जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें.

cashew-farming-kaju-ki-kheti

कैसे करें काजू की खेती

ऊष्णकटिबंधीय स्थानों पर काजू की पैदावार अधिक होती है. जिन जगहों पर तापमान सामान्य रहता है वहां पर काजू की खेती करना बहुत अच्छा माना जाता है. इसके लिए समुद्रीय तलीय लाल और लेटराइट मिट्टी बहुत ही लाभकारी होता हैं.

इसलिए दक्षिण भारत में बड़े पैमाने पर इसकी खेती की जाती है. काजू की खेती लगभग समुद्र तल से 750 मीटर की ऊंचाई पर करना चाहिए. क्योंकी अच्छी पैदावार के लिए इसे नमी और सर्दी से बचाना होता है. क्योंकी नमी और सर्दी की वजह से इसकी पैदावार प्रभावित हो सकती है. अगर अच्छी तरह से देखभाल की जाए तो काजू की खेती कई तरह की मिट्टियों में की जा सकती है.

मशरूम की खेती से होगी लागत से 10 गुना तक की कमाई, ऐसे शूरू करें मशरूम की खेती

काजू फार्मिंग के लिए जलवायू

जैसा कि खेती के लिए ऊष्णकटिबंधीय जलवायू सबसे अच्छी मानी जाती हैं. इस के अतिरिक्त गरम और आद्र जलवायु वाली जगह पर भी इसकी पैदावार बहुत अच्छी होती है. काजू के पौधे को अच्छे से विकसित करने के लिए
600-700 मिमी वर्षा की जरूरत होती है. सामान्य से अधिक सर्दी या गर्मी होने पर भी इसकी फसल को प्रभावित कर सकती हैं.

काजू फार्मिंग के लिए कैसे करें खेत तैयार

  • काजू के पौधे लगाने से पहले खेत की दो बार अच्छी से जुताई कर लेनी है.
  • खेत की जुताई के बाद, पौधे की रोपाई के लिए गड्डे तैयार करने है उसके बाद गड्डे की अच्छी तरह नीदाई गिराई के बाद उसे अच्छे से तेयार करले.
  • रोपाई से पहले गड्ढे में गोबर की खाद को उचित मात्रा में मिट्टी से मिला कर भरना होता है. इसके बाद अच्छे से गड्ढों को भरकर उसकी सिंचाई करनी है. काजू के पौधों को तैयार करने के लिए इसके बीज को सीधे खेत में लगाया जा सकता है.
  • पौधे लगाते समय ध्यान रखें, एक पौधे से दूसरे पौधे की दूरी कम से कम 4 मीटर होनी चाहिए. इस तरह आप एक हेक्टेयर में करीब 500 पौधे लगा सकते हैं.

2022 मे केसे करे अदरक की खेती से कमाई | Ginger farming business plan

काजू की खेती में कितनी होगी कमाई

काजू के पौधे एक बार लगाने के बाद यह कई साल तक पैदावार देते हैं. इसमें आपको काजू के पौधे लगते समय समय खर्च करना होगा. एक हेक्टेयर जमीन में लगभग 500 पेड़ लगाए जाते हैं और एक पेड़ में से करीबन 20 किलो काजू निकलती है.

इस तरह एक हेक्टेयर जमीन में करीबन 10 टन काजू निकलती है. और मार्केट में काजू की कीमत 700-800 रुपए किलो है जिससे आप अंदाजा लगा सकते हैं इसमें कितना सारा मुनाफा कमाया जा सकता हैं.

दोस्तो अगर काजू की खेती को सही जानकारी और प्रशिक्षण लेकर शुरू किया जाए, तो यह आपको करोड़पति बना सकती है.

Leave a Comment