वेडिंग प्लैनिंग बिजनेस कैसे शुरू करें | how to start wedding planning business in hindi

wedding planning business: आज के समय में बहुत ही पॉपुलर बिजनेस साबित हो रहा है. वेडिंग प्लानर बिज़नेस मे सादी विवाह की योजना बनाई जाती है. यह बिजनेस इवेंट मैनेजमेंट से जुड़ा हुआ बिजनेस है. हमारे कहने का मतलब यह एक इवेंट मैनेजमेंट करने वाला व्यक्ति Wedding planning इत्यादि का काम करता है.

हमारे देश मे सादी विवाह को बहुत अधिक महत्व दिया जाता है. लोग अपने बच्चो की सादी बहुत धूम धाम से करते हैं. ऐसे में उस परिवार के कुछ लोग शादी का मजा नहीं ले पाते क्यो की वह शादी में कभी रसोई,कभी टेंट वाले,कभी बेंड बाजे वाले, कभी फूल वाले कभी लाईट डेकोरेशन करने वाले, कभी मेहमान नवाजी करने में लगे रहते है जिसके कारण वह व्यक्ति शादी का एंजॉय नहीं कर पाते है. लोगो की इसी समस्या का हल wedding planner के द्वार किया जाता है. इसमें घर के सदस्यों द्वारा योजना बनाकर वेडिंग प्लानर को पहले ही बता दिया जाता है कि उन्हे शादी में किस तरह की व्यवस्था चाहिए. उसके बाद उस शादी के सारी व्यवस्था करने का काम वेडिंग प्लानर का हो जाता है. जिसके बदले उसे पैसे दिए जाते है.
इसी तरह आप भी wedding planning business को शुरू कर सकते हो
आज के समय में इस बिजनेस की डिमांड दिन पे दिन बढ़ती जा रही. जिसके चलते इस बिजनेस को शुरू करना आपके लिए एक अच्छा रोजगार सबित हो सकता है. क्यो की जिस तरह शादी विवाह में टेंट वालों की, बैंड वालों की, पंडित जी की जरूरत होती है उसी प्रकार आने वाले समय में wedding planner की जरूरत आवश्यक हो जाएगी.

इसलिए वेडिंग प्लानर बिजनेस की डिमांड आने वाले समय में बढ़ती ही जाएगी. यदि आप आज के समय में इस बिजनेस को शुरू करना चाहते हो तो आपके लिए यह एक अपॉर्चुनिटी है.

Wedding planning  business hindi

Table of Contents

वेडिंग प्लानिंग क्या है ( what is wedding planning)

जैसा कि हमने ऊपर बताया आपको एक wedding planner वह होता जिसके द्वारा लोग की शादियों की योजन,ऑर्गेनाइज़ेशन और प्रबंध करने का काम किया जाता है.जैसा कि हम सब जानते हमारे देश में शादी किसी व्यक्ति के जीवन की खुशियों में से एक है. लेकिन यह घरवालों के लिए तनावपूर्ण भी हो सकता है.
क्यो की उन्हे शादी में बहुत सरी चिंताएं बनी रहती है. जैसे टेंट वालो का , लाईट डेकोरेशन, बैंड बाजू की व्यवस्था करने की चिंता बनी रहती. जिसके किस कारण वह अपने घर में होने वाली शादी मैं इंजॉय नहीं कर पाते है. इसी चिंताओं को दूर करने के लिए लोग अपनी शादियों में wedding planner की नियुक्ति करते हैं.

वेडिंग प्लानिंग की आवश्यकता ( wedding planning requirements)

हमारे देश मे आपने देखा होगा कि जब किसी घर में शादी होती है तो उस घर के सारे सदस्य ज्यदतार शादी की व्यवस्था करने में व्यस्थ रहते है और उन का चेंन तब तक गायब रहता है, जब तक की शादी अच्छे ढंग से निपट नहीं जाय. क्यो की दोस्तो हर कोई चाहता है कि उनके घर पर होने वाली शादी अच्छे से निपट जाय और उनके घर पर आने वाले मेहमान को किसी समस्याओं का सामना न करना पड़े. इसीलिए उस परिवार के लोग ज्यादातर शादियों में आने वाले मेहमानों की व्यवस्था करने में ही रह जाते हैं. हर पल उनको इस बात की चिंता बनी रहती हैं कि मेहमान नवाजी करने में किसी बात की कमी ना रह जाए. ऐसी समस्याओं का हल निकालने के लिए आजकल लोग wedding planner की नियुक्ति करते हैं. जिससे उन के मन में शादी को लेकर किसी बात की चिंता ना हो और वह आराम से अपने परिवार में होने वाली शादी का आनंद ले सके.

यह भी पढ़े – लाइट डेकोरेशन का बिजनेस कैसे शुरू करे

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस कैसे शुरू करें ( how to start wedding planning business)

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस को शुरू करने के लिए आप के पास क्रिएटिविटी माइंडसेट का होना बहुत ही जरूरी है. क्योंकि इस बिज़नेस में आपके दिमाग में नए-नए क्रिएटिव आइडिया आना जरूरी है. तभी आप wedding planner business को सक्सेसफुल चला पाओगे.
वेडिंग प्लैनिंग बिजनेस को शुरू करने से पहले आपको इस बात का ध्यान रखना है कि wedding planning business वर्तमान समय में बड़ी सिटी या शहर में किया जा सकता है. क्योंकि ज्यादातर पैसे वाले लोग सिटी या शहर में ही रहते हैं जो इस तरह के काम मे अधिक पैसा खर्च करते हैं. इसलिए आपको इस बिजनेस को मार्केट या शहर में ही शुरू करना है. क्योंकि आज भी गांव में इस बिजनेस का स्कोर इतना नहीं है. लेकिन आने वाले समय में गांव में भी लोग वेडिंग प्लानर की नियुक्ति करेंगे. लेकिन वर्तमान समय के अनुसार आपको wedding planning business सिटी या शहर में ही करना चाहिए.
चलिए जानते हैं कि वेडिंग प्लानिंग बिजनेस कैसे शुरू किया जा सकता है.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस में प्रशिक्षण या अनुभव प्राप्त करें (Gain training or experience )

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस शुरू करने से पहले प्रशिक्षण या अनुभव लेना बहुत ही जरूरी है.
उद्यमी वेडिंग प्लानिंग बिजनेस का कोर्स करता है तो उसके लिए यह बिजनेस शुरू करना बहुत ही आसान हो जाएगा.
अब आपके मन में यह सवाल जरूर आता होगा कि हम वेडिंग प्लानिंग बिजनेस का कोर्स कहां से करें तो हमने नीचे निम्न बिंदुओं में कुछ इंस्टीट्यूट के बारे में बताएं है. जहां से उद्यमी इस कोर्स को आसानी से कर सकता है.
जैसे:

  • शाखा- कोच्चि बेंगलुरु, हैदराबाद
  • एमिटी इंस्टिट्यूट ऑफ़ इवेंट मैनेजमेंट, दिल्ली
  • इंटरनेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट, मुंबई
  • इवेंट मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट मुंबई

इनमें से किसी भी इंस्टीट्यूट से उद्यमी वेडिंग प्लानिंग का कोर्स कर सकते हैं. किंतु यदि उद्यमी कोर्स नहीं करना चाहता है तो वह लघु उद्योग के प्रशिक्षण के कार्यक्रम में हिस्सा लेकर wedding planning की जानकारी ले सकता हैं
और फिर अनुभव लेने के लिए किसी इवेंट कंपनी या फिर वेडिंग प्लानिंग कंपनी मे जॉब कर सकता है. जिससे उसे वेडिंग प्लानिंग के बारे में पूरी जानकारी मिल सके.
जब उद्यमी को इस बात का पता चल जाता है कि उसे इस बिजनेस को शुरू करने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता होगी और उसे इस बिजनेस मे कोन कोन सी चुनौतियां का सामना करना पड़ सकता हैं और इन चुनौतियों से निपटने के लिए उसे क्या करना होगा. तब जाकर वे wedding planning business को शुरू करने के लिए आगे बढ़ सकता है.

यह भी पढ़े – एलईडी बल्ब बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करे

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस के लिए योजना बनाए ( wedding planning business for plan)

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस का प्रशिक्षण या अनुभव लेने के बाद आपका अगला कदम wedding planner business की योजना बनाना होना चाहिए. यह एक ऐसा दस्तावेज होता है जिसे व्यवसाय का रोड में भी कहा जाता है.
योजना बनाने के लिए उद्यमी को में निम्न बिंदुओं को ध्यान रखना होगा.

  • सबसे पहले उद्यमी को यह पता करना है कि वह wedding planner business को घर से शुरू करना चाहता है या ऑफिस एस्थपित कर के.
  • उस के बाद यह भी जानना है कि इस बिजनेस मे लागत कितनी आयगी‌.
  • इस बिजनेस के लिए टीम केसे बिल्ड करनी होगी किन किन लोगो को अपने साथ जोड़ना होगा.
  • wedding planner business मे कितना मुनाफा कमाया जा सकता हैं.
  • बिजनेस के लिए कोन कोन से लाइसेंस लेने होंगे.
  • इस तरह निम्न बिंदुओं को ध्यान में रखकर आपको अपने बिजनेस की योजना बना लेनी है.

ऑफिस खोलने के लिए जगह का चुनाव करें ( plus in wedding planning business)

योजना बनाने के बाद हमारा‌ अगला कदम ऑफिस के लिए जगह का चुनाव करने का होना चाहिए. यदि आप चाहो तो इस बिजनेस को अपने घर से भी शुरू कर सकते हो. लेकिन ग्राहक के द्वारा बिल की मांग की जाएगी तो आप उसे बिल नहीं दे पाओगे. इसी स्थिति से निपटने के लिए हमें ऑफिस की जरूरत होगी. ताकि ग्राहक आपके ऑफिस में आकर आपसे संपर्क कर सकें.
ऑफिस खोलने के लिए आपको जगह की आवश्यकता होगी इसके लिए जगह का चुनाव आप कहीं भी कर सकते जहा का किराया कम हो.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस के लिए लाइसेंस ( required licence in wedding planning business)

वैसे तो wedding planning business के लिए किसी खास लाइसेंस की आवश्यकता नहीं होती है. लेकिन यदि आप इसे एक संगठन का रूप देना चाहते हो तो आपको कुछ लाइसेंस लेना पड़ सकते हैं.

  • अपने बिजनेस का नाम सर्च करके उसका पंजीकरण करवाना है.
  • पार्टनरशिप या वन पर्सन कंपनी के तौर पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा.
  • जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराना होगा.
  • इसके अलावा जो भी व्यक्ति इस बिजनेस को शुरू कर रहे हैं उसी के नाम का बैंक अकाउंट होना आवश्यक है.
  • स्थानीय प्राधिकरण से ट्रेड लाइसेंस लेना होगा.
  • उद्योग रजिस्ट्रेशन कराना होगा.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस के लिए टीम तैयार करें( build team for wedding planning business)

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस एक अकेला व्यक्ति शुरू नहीं सकता है. इसके लिए उसे एक टीम तैयार करनी होगी हैं ताकि वेडिंग प्लानिंग बिजनेस में होने वाला सारा काम आसानी से मैनेज किया जा सके. क्यों की पेशेवर व्यक्ति अधिकतर शादियों का सारा काम जैसे रसोई की तैयारी करना, मेहमान नवाजी करना, डीजे, बैंड, ढोल, लाइट डेकोरेशन, टेंट, फोटोग्राफी इत्यादि की व्यवस्था करने का काम वेडिंग प्लानर को सौंप देते हैं.
इसलिए टीम बनानी जरूरी है. इसके लिए अपने आसपास के क्षेत्र के डीजे वाले, बैंड वाले, ढोल वाले, टेंट वाले, फोटोग्राफर वाले, लाइट डेकोरेशन वाले, आदि से संपर्क करके बात कर लेनी है कि यदि वह अपनी टीम का हिस्सा बनाकर काम दिलाता है तो उस कितना कमीशन मिलेगा इसके बारे में पहले से ही बात कर लेनी है.

बिजनेस की वेबसाइट बनाऐ ( create business website )

आज के समय में अपने बिजनेस को ऑनलाइन ले जाना बहुत ही जरूरी हो गया है. क्योंकि अधिकतर लोग इस तरह की सर्विस प्रोवाइड करने वाले व्यक्ति को ऑनलाइन ही ढूंढते हैं. इसीलिए आपको अपने बिजनेस के नाम से वेबसाइट बनाना बहुत जरूरी और उसमें आपके द्वारा दी जाने वाली सारी सर्विस के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए. ताकि ग्राहक को पता चल सके कि यदि वह आपसे संपर्क करता है तो उसे कौन-कौन सी सुविधा मिल सकती हैं.
वेबसाइट बनाने के लिए आप किसी वेब डेवलपर की मदद ले सकते हो या फिर यदि आपको वेबसाइट बनाना आती हो तो आप खुद भी वर्डप्रेस की मदद से अपने बिजनेस की वेबसाइट बना सकते हो. इसके अलावा सोशल मीडिया पर अपने बिजनेस का पेज जरूर बनाएं‌ ताकि आप अपने बिजनेस की मार्केटिंग आसानी से कर सको.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस की मार्केटिंग ( marketing in wedding planning business)

वेबसाइट बनने के बाद आप का अगला कदम मार्केटिंग करने का होना चाहिए. मार्केटिंग करने के लिए आप ऑफाइल कर ऑनलाइन दोनो तरीको को अपना सकते हो जैसे:
ऑफलाइन: में अपने wedding planner business के पोस्टर या पंपलेट बनवा कर बटवा सकते हो. लेकिन याद रहे उस पोस्टर पंपलेट में अपने बिजनेस की वेबसाइट का नाम जरूर होना चाहिए. ताकि लोग को आप के बारे पूरी जानकारी मिल सके
ऑनलाइन: में आप सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, टि्वटर, टेलीग्राम,आदि पर अपने बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते हो और अपने सोशल मीडिया अकाउंट के बायो मे अपने बिजनेस की लिंक जरूर डालें. ताकि जब भी लोग आपकी सोशल मीडिया प्रोफाइल पर जाएं. तो उन्हें वहा लिंक दिखाई दें. ताकि वह आपकी वेबसाइट पर जाकर आपके द्वारा दी जाने वाली सर्विस के बारे में जान सके.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस में क्रिएटिविटी का होना ( creativity in wedding planning business)

उद्यमी को wedding planning business में सक्सेसफुल होने के लिए क्रिएटिव माइंडसेट का होना बहुत जरूरी है. क्योंकि यह एक ऐसा बिजनेस है. जिसमें हमेशा कुछ न कुछ नया करने की आवश्यकता होती है. इसीलिए उद्यमी को हमेशा नया नया आईडिया सोचकर उसे ट्राय करने की कोशिश करनी चाहिए.
क्योंकि आजकल wedding planning द्वारा ग्राहकों को प्रेजेंटेशन 3D में दी जा रही है. जिसमे ग्राहकों की पहले ही बता दिया जा रहा है कि शादी में किस तरह का डेकोरेशन रहेगा और वह किस तरह दिखेगा.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस में ध्यान देने योग्य बातें ( Things to keep in mind in wedding planning business)

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस शुरू करते वक्त आपको कुछ छोटी छोटी बातो का ध्यान रखना होगा जो आपके बिजनेस को ग्रो करने में आपकी हेल्प करेगी.

  • वेडिंग प्लानिंग बिजनेस के लिए प्रशिक्षण या अनुभव लेना अनिवार्य है.
  • wedding planning business मे हमेशा कुछ न कुछ नया करते रहना चाईये.
  • वेडिंग प्लानिंग बिजनेस मे अपनी टीम को तेयार करते वक्त आप को यह देख लेना है कि उसके काम को लोग पसंद करते है या नहीं.
  • उदहारण के लिए माल लीजिए की कोई फोटोग्राफर है जो सई से काम नहीं करता है और लोग उसे पसंद नहीं करते है . और आपने ऐसे ही फोटोग्राफर को चुन लिया है जिसका काम ग्राहक को पसंद नहीं आया है तो आपका क्रेडीट खराब हो सकता है. इसीलिए पहले उस के बारे जाने लेना है कि क्या वह अच्छा काम करता है या नहीं. लोग उसे पसंद करते है या नहीं इस के बाद ही आप उसे अपनी टीम में रखे.
  • अपने बिजनेस के नाम के छोटे छोटे विजिटिंग कार्ड जरूर छपवाए ताकि कोई आपसे संपर्क करना चाहता है तो आप उसे अपना विजिटिंग कार्ड देदे.
  • इस तरह आप कुछ छोटी छोटी बातों को ध्यान में रख कर अपने बिजनेस को बड़ा सकते हो.

वेडिंग प्लानिंग बिजनेस कैसे शुरू करें ?

प्रशिक्षण या अनुभव प्राप्त करें
• बिजनेस की योजना बनाएं
• वेटिंग प्लानिंग बिजनेस के लिए टीम बनाएं
• बिजनेस की मार्केटिंग करें
• लाइसेंस एवं रजिस्ट्रेशन करवाएं

इवेंट मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद किस तरह की नोकरी मिल सकती है ?

इवेंट मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद आप किसी भी इवेंट कम्पनी में जॉब कर सकते हो. जहा पर आपको शुरुआती वेतन 15 से 20 हजार रूपए मिल सकता है. उसके बाद जब आपको इस फील्ड का अच्छे से अनुभव हो जाएगा तो आपकी सैलरी बढ़ सकती है.

एक वेडिंग प्लानर को कितने घंटे काम करना पड़ सकता है ?

एक वेडिंग प्लानर के लिए कोई समय सीमा निर्धारित नहीं है. यदि काम अधिक हो तो उसे 24 घंटे भी काम करना पड़ सकता है.

इवेंट मैनेजमेंट का कोर्स कैसे करें ?

यदि आप इवेंट मैनेजमेंट में बैचलर डिग्री या डिप्लोमा करना चाहते हो तो आप 12 वी के बाद इवेंट मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हो master in event management या PG diploma in event management, MBA in event management के लिए ग्रेजुएट का होना जरूरी है. बैचलर डिग्री की अवधि 3 वर्ष, डिप्लोमा 2 वर्ष मास्टर डिग्री 2 वर्ष होती है.

Leave a Comment